badrinath ki dulhania – Humsafar – Akhil Sachdeva – Mansheel Gujral

badrinath ki dulhania

गीत शीर्षक: हमसफ़र
मूवी: बद्रीनाथ की दुल्हनिया
गायक: अखिल सचदेव
गीत: अखिल सचदेव
संगीत: अखिल सचदेव

संगीत लेबल: टी-सीरीज़

Sun zalima mere
Sannu koi darr na
Ki samjhega jamana
Tu vi si kamli
Mai vi sa kamlaa




badrinath ki dulhania – Humsafar – Akhil Sachdeva – Mansheel Gujral


Ishke da rog sayaana
Ishke da rog sayaana…
Sun mere humsafar
Kya tujhe itnee si bhi khabar

Sun mere humsafar
Kya tujhe itni si bhi khabar
Ki teri sanse chalti jidhar
Rhunga bas wahi umar bhar
Rhunga bas wahi umar bhar, haye

Jitni hasin ye mulakate hai
Unse bhi pyaari teri baatein hai
Baato mein teri jo kho jaate hai
Aau na hosh me main kabhi
Baahon mein hai teri jindagi, haye

Sun mere humsafar
Kya tujhe itni si bhi khabar
Zalima tere ishk vich ma
Ho gyi aa kamlee… haye..

Main to yu khada
Kis soch me pda tha
Kaise ji rha tha main deewaana
Chupke se aake tune
Dil me sama ke tune
Chhed diya kaisa ye fasana
Oh… muskuraana bhi tujhi se sikha hai

Dil lagaane…

badrinath ki dulhania

badrinath ki dulhania – Humsafar – Akhil Sachdeva – Mansheel Gujral



सुन ज़ालिमा मेरे
सानु कोई डर ना
की समझेगा ज़माना
ओह तू वि सी कमली
मैं वि सा कमला


इश्क दा रोग सयाना
इश्क दा रोग सयानासुन मेरे हमसफ़र
क्या तुझे इतनी सी भी खबरसुन मेरे हमसफ़र
क्या तुझे इतनी सी भी खबर

की तेरी साँसे चलती जिधर
रहूँगा बस वही उम्र भर
रहूँगा बस वही उम्र भर हायजितनी हसीं ये मुलाकातें हैं


उनसे भी प्यारी तेरी बातें हैं
बातों में तेरी जो खो जाते हैं
आऊँ ना होश में मैं कभी
बाहों में है तेरी ज़िन्दगी हाय

सुन मेरे हमसफ़र
क्या तुझे इतनी सी भी खबर

ज़ालिमा तेरे इश्क च मैं
हो गयीआं कमली हाय

मैं तो यूं खड़ा किस
सोच में पड़ा था
कैसे जी रहा था मैं दीवाना

छूपके से आके तूने
दिल में समां के तूने
छेड़ दिया कैसा ये फ़साना


ओ.. मुस्कुराना भी तुझी से सिखा है
दिल लगाने का तू ही तरीका है
ऐतबार भी तुझी से होता है

आऊँ ना होश में मैं कभी
बाहों में है तेरी ज़िन्दगी हाय

है नहीं था पता
के तुझे मान लूँगा खुदा
की तेरी गललियों में इस कदर
आऊंगा हर पहर

सुन मेरे हमसफ़र
क्या तुझे इतनी सी भी खबर
की तेरी साँसे चलती जिधर
रहूँगा बस वही उम्र भर
रहूँगा बस वही उम्र भर हाय

ज़ालिमा तेरे इश्क च मैं


Song Title: Humsafar
Movie: Badrinath Ki Dulhania
Singer: Akhil Sachdeva
Lyrics: Akhil Sachdeva
Music: Akhil Sachdeva

Music Label: T-Series

badrinath ki dulhania – Humsafar – Akhil Sachdeva – Mansheel Gujral


You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *